आखिरकार चुनाव आयोग ने तोड़ा मौन:’आइटम’ वाले बयान पर दो दिन बाद जागा चुनाव आयोग, कमलनाथ को नोटिस जारी कर 48 घंटे में जवाब देने को कहा


  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Kamal Nath Controversy, Madhya Pradesh By Election 2020 Update; Dainik Bhaskar Speaks To Bhopal Election Commission Office

भोपाल9 घंटे पहले

  • मतदान की तारीख नजदीक आते ही कांग्रेस-भाजपा के नेता एक-दूसरे पर व्यक्तिगत हमले करने लगे हैं
  • 18 अक्टूबर को कमलनाथ ने डबरा में इमरती देवी को आइटम कहा था, इसके बाद से ही मध्यप्रदेश राजनीति गर्मा गई थी

मध्य प्रदेश की 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में प्रचार जैसे-जैसे जोर पकड़ रहा है, वैसे-वैसे नेताओं की भाषा भी गिर रही है। महिलाओं के लिए आइटम, रखैल जैसे शब्दों का इस्तेमाल हो रहा है। आखिरकार लंबे समय बाद चुनाव आयोग ने अपनी चुप्पी तोड़ी।

केंद्रीय चुनाव आयोग ने शिवराज सरकार में मंत्री इमरती देवी को आइटम कहने पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ नोटिस जारी कर दिया है। कमलनाथ से 48 घंटे के अंदर जवाब देने को कहा गया है।

कमलनाथ ने मंत्री इमरती देवी को आइटम कहा
18 अक्टूबर को एक चुनावी सभा में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा था कि हमारे राजे (कांग्रेस प्रत्याशी) तो सीधे-सादे और सरल हैं। ये उसके जैसे नहीं हैं। मैं क्यों उसका नाम लूं। इतने में लोग बोले- इमरती देवी। इस पर हंसते हुए कमलनाथ बोले- आप लोग मेरे से ज्यादा उसको पहचानते हैं। आप लोगों को तो मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था कि वह क्या आइटम है। इसके अगले ही दिन भाजपा सरकार में मंत्री बिसाहूलाल ने अनूपपुर से कांग्रेस प्रत्याशी विश्वनाथ सिंह कुंजाम की दूसरी पत्नी को रखैल बता दिया था।

रावण और चुन्नू-मुन्नू भी कहा जा रहा
हाल ही में हुई चुनाव सभाओं में भाजपा के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कमलनाथ और दिग्विजय को एक सभा में चुन्नू-मुन्नू कहा तो कांग्रेस नेता सज्जन वर्मा ने कैलाश विजयवर्गीय की तुलना रावण से कर दी।

संस्कृति मंत्री ने एक धर्म पर निशाना साधा
प्रदेश की संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने कहा- सारा कट्टरवाद और सारे आतंकवादी मदरसों में पले-बढ़े हैं। जम्मू कश्मीर को आतंकवाद की फैक्ट्री बनाकर रख दिया था। ऐसे मदरसे जो हमें राष्ट्रवाद और समाज की मुख्यधारा से नहीं जोड़ सकते, हमें उन्हें ही सही शिक्षा से जोड़ना चाहिए और समाज को सबकी प्रगति के लिए आगे लेकर जाना चाहिए।

भोपाल चुनाव कार्यालय ने दिल्ली भेजी थी रिपोर्ट
मध्य प्रदेश में चुनावी माहौल में बेलगाम नेताओं पर कार्रवाई को लेकर भास्कर ने निर्वाचन आयोग के भोपाल स्थित सीईओ (मुख्य चुनाव अधिकारी) ऑफिस में बात की तो उन्होंने साफ कर दिया कि सभी मामलों को दिल्ली में निर्वाचन आयोग के पास भेजा गया है, फैसला वहीं से होगा। संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी मोहित बुंदस ने भास्कर को बताया- कमलनाथ, बिसाहूलाल समेत तमाम नेताओं के संबंध में जो शिकायतें मिली हैं, उन्हें हेड ऑफिस भेजा गया है। कुछ शिकायतें सही मिलीं, कुछ गलत भी पाई गईं। निर्वाचन आयोग के निर्देश पर कार्रवाई की जाएगी। यहां से कुछ नहीं हो सकता।



Source link

झारखंड में कोरोना:पिछले 20 दिनों का ट्रेंड; राज्य में कोविड-19 के 12,723 नए केस, 18,050 संक्रमित ठीक होकर घर भी लौटे


  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi Dhanbad Palamu (Jharkhand) Coronavirus Cases Latest Update | Jharkhand Corona Outbreak Cases District Wise Today News; East Singhbhum Dhanbad Giridih Hazaribagh

रांची/धनबाद/जमशेदपुर15 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

अब तक राज्य में मिले कोरोना के कुल 97,384 पॉजिटिव केस में से 90,385 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं जबकि 880 मरीजों की मौत हो चुकी है। यानी राज्य में अब 6119 एक्टिव केस रह गए हैं। -फाइल फोटो।

  • राज्य में अब तक 97,384 पॉजिटिव केस मिले, इनमें 90,385 संक्रमित हो चुके स्वस्थ
  • पूरे राज्य का रिकवरी रेट बढ़कर 92.81 प्रतिशत पहुंचा, अब तक 880 मरीजों की मौत

राज्य में पिछले 20 दोनों का ट्रेंड कोरोना मुक्त राज्य की ओर इशारा कर रहा है। राज्य में पिछले 20 दिनों में कोविड-19 के 12,723 नए केस मिले हैं जबकि इतने ही दिनों में 18,050 संक्रमित स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। राज्य में लगातार बढ़ रहा रिकवरी रेट भी सुखद इशारा कर रहा है। रिकवरी रेट बढ़कर अब करीब 93 यानी 92.81 प्रतिशत पहुंच गया है। अब तक राज्य में मिले कोरोना के कुल 97,384 पॉजिटिव केस में से 90,385 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं जबकि 880 मरीजों की मौत हो चुकी है। यानी राज्य में अब 6119 एक्टिव केस रह गए हैं।

राज्य के ये 12 जिले जल्द हो सकते हैं कोरोना मुक्त
राज्य के 12 जिले जल्द ही कोरोना संक्रमण से मुक्त हो सकते हैं। इन जिलों में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 100 से नीचे पहुंच गई है। कुछ जिलों में तो एक्टिव मरीजों की संख्या 50 से भी कम हो गई है।

जिले एक्टिव मरीजों की संख्या
चतरा 54
देवघर 66
गढ़वा 60
गिरिडीह 64
गोड्डा 55
जामताड़ा 59
लातेहार 97
लोहरदगा 16
पाकुड़ 42
पलामू 06
साहेबगंज 37
पश्चिमी सिंहभूम 62

राज्य में पिछले 24 घंटे में 542 नए मरीज मिले, सात की मौत भी हुई
राज्य में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 542 नए मरीजों की पुष्टि हुई, जिसमें रांची से 196, बोकारो से 42, चतरा से 2, देवघर से 8, धनबाद से 69, दुमका से 3, पूर्वी सिंहभूम से 21, गढ़वा से 6, गिरिडीह से 2, गोड्डा से 4, गुमला से 15, हजारीबाग से 6, जामताड़ा से 3, खूंटी से 8, कोडरमा से 5, लातेहार से 3, लोहरदगा से 5, पाकुड़ से 3, पलामू से 47, रामगढ़ से 15, साहेबगंज से 12, सरायकेला से 17, सिमडेगा से 6, पश्चिमी सिंहभूम से 44 शामिल हैं। वहीं पिछले 24 घंटे में सात मरीजों की मौत भी हुई है। इनमें एक सरायकेला, दो रामगढ़, एक खूंटी, एक पूर्वी सिंहभूम, एक धनबाद और एक बोकारो का मरीज शामिल है।

झारखंड

  • कुल संक्रमित 97,384
  • ठीक हुए 90,385
  • रिकवरी रेट 92.81%
  • कुल मौतें 880

रांची

  • कुल संक्रमित 24,448
  • ठीक हुए 22,462
  • रिकवरी रेट 91.87%
  • कुल मौतें 134

राज्य में कहां कितने मरीज
गढ़वा 2208, बोकारो 4892, पलामू 2861, हजारीबाग 3794, धनबाद 5863, गिरिडीह 3232, सिमडेगा 1765, देवघर 2718, जामताड़ा 929, दुमका 1219, कोडरमा 3164, गोड्‌डा 1824, पू. सिंहभूम 14616, प. सिंहभूम 4747, लातेहार 1653, रामगढ़ 3762, गुमला 1958, लोहरदगा 1428, चतरा 1327, सरायकेला 3452, खूंटी 1846, पाकुड़ 798 और साहेबगंज में 1450।



Source link

फेक TRP मामला:पूर्व पुलिस अफसर ने अर्नब गोस्वामी के खिलाफ मानहानि का केस किया, रिपब्लिक टीवी के कुछ लोगों से आज पूछताछ


  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • Defamation Case Against Arnab Goswami, Former Police Officer, Some People Related To Republic TV Will Be Questioned Today

मुंबईएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

अर्नब पर आरोप लगे हैं कि वे अपने चैनल पर ऐसी डिबेट और स्टोरी टेलीकास्ट कर रहे हैं, जिनसे जांच पर असर पड़ सकता है।

  • चैनल के CFO, डिस्ट्रीब्यूशन हेड और एडिटर को क्राइम ब्रांच ने बुलाया
  • CBI ने केस दर्ज करने के लिए फेक TRP केस में उत्तर प्रदेश में दर्ज श‍िकायत को आधार बनाया

प्रेसिडेंट पुलिस मेडल विजेता और पुलिस के पूर्व असिस्टेंट कमिश्नर (ACP) इकबाल शेख ने अर्नब गोस्वामी के खिलाफ मानहानि का केस किया है। वकील आभा सिंह के जरिए मुंबई सिटी कोर्ट में मुकदमा किया गया है। साथ ही रिपब्लिक टीवी और अर्नब गोस्वामी पर बैन लगाने की मांग भी की है।

उधर, फेक TRP केस में कांदिवली पुलिस स्टेशन में FIR दर्ज की गई है। इसी मामले की जांच के लिए आज मुंबई क्राइम ब्रांच के ऑफिस में रिपब्लिक टीवी के CFO एस सुंदरम, डिस्ट्रीब्यूशन हेड जी. सिंह और सीनियर एडिटर निरंजन नारायणस्वामी को पूछताछ के लिए तलब किया है।

‘अपने ही केस पर चैनल पर बहस नहीं कर सकते’
अर्नब के खिलाफ मानहानि केस में आज सुनवाई हो सकती है। पिटीशनर ने आरोप लगाया गया है कि “जब एक मामला कानूनी प्रावधानों के तहत जांच के अधीन है, तो बचाव पक्ष नंबर-1 (गोस्वामी) को यह छूट नहीं दी जा सकती है कि वे अपने ही केस के बारे में अपने ही चैनल पर बहस कर मुंबई पुलिस को बदनाम करें।”

‘जांच प्रभावित हो सकती है’
शेख ने यह आरोप लगाया है कि गोस्वामी विवादित डिबेट्स और स्टोरी टेलीकास्ट कर रहे हैं, जिससे केस की जांच प्रभावित हो सकती है। अर्नब ने दो लोकप्रिय चैनल के मालिक होने के नाते अपनी सीमाओं को पार किया है और अपना एजेंडा शुरू कर दिया है।”

CBI ने भी दर्ज किया केस
फेक TRP मामले में अब CBI ने केस दर्ज कर लिया है। जांच एजेंसी ने केस दर्ज करने के लिए उत्तर प्रदेश में दर्ज एक श‍िकायत को आधार बनाया है। अधिकारियों ने बताया कि रेटिंग में हेरफेर के आरोपों पर FIR दर्ज किए जाने के बाद CBI ने लखनऊ पुलिस से जांच का जिम्मा अपने हाथ में लिया है। रिपब्ल‍िक टीवी लगातार CBI जांच की मांग कर रहा था।

अब तक 6 लोगों की गिरफ्तारी हुई
TRP स्कैम में मुंबई पुलिस ने 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। जिन घरों में टीवी को मॉनिटर किया जाता था उनके मालिकों को एक चैनल देखने के लिए पैसे दिए जाने का आरोप है।

3 चैनल्स पर आरोप
रिपब्लिक टीवी उन 3 चैनल्स में से एक है जिस पर मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने TRP को मैनिपुलेट करने का आरोप लगाया है और केस दर्ज करवाया है। रिपब्लिक के अलावा फक्त मराठी और बॉक्स सिनेमा चैनल भी आरोपी है। TRP किसी भी चैनल के लिए इसलिए जरूरी होती है, क्योंकि इसी आधार पर उसे विज्ञापन मिलते हैंओ।



Source link

कोरोना देश में:देश में 64% एक्टिव केस सिर्फ 6 राज्यों में, डेढ़ महीने में ऐसे मरीजों की संख्या 2 लाख से ज्यादा घटी


  • Hindi News
  • National
  • Coronavirus Outbreak India Cases LIVE Updates; Maharashtra Pune Madhya Pradesh Indore Rajasthan Uttar Pradesh Haryana Punjab Bihar Novel Corona (COVID 19) Death Toll India Today Mumbai Delhi Coronavirus News

नई दिल्ली3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • देश में संक्रमितों का आंकड़ा 76 लाख के पार, 67.91 लाख लोग ठीक हुए
  • अब तक 1.15 लाख से ज्यादा मौतें, रिकवरी रेट 88.63% पहुंचा

संक्रमण के नए मामले कम हो रहे हैं। एक्टिव केस (ऐसे मरीज जिनका इलाज चल रहा है) भी तेजी से घटने लगे हैं। डेढ़ महीने में एक्टिव मरीजों की संख्या में करीब 2 लाख से ज्यादा कमी देखी गई है। बुधवार को दूसरे दिन भी एक्टिव केस की संख्या 7.5 लाख से कम रही। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में 64% एक्टिव केस सिर्फ 6 राज्यों में हैं। इनमें 50% महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल में हैं। बाकी के दूसरे राज्यों में हैं।

देश में कोरोना का आंकड़ा 76 लाख के पार हो गया है। अब तक 76 लाख 48 हजार 373 लोग संक्रमित पाए जा चुके हैं। पिछले 24 घंटे में 54 हजार 404 नए केस मिले, 61 हजार 933 लोग रिकवर हुए और 714 मरीजों की मौत हो गई।

14 राज्यों और यूटी में डेथ रेट 1% से कम

देश में कोरोना से होने वाली डेथ रेट में कमी आई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, 14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों (यूटी) में डेथ रेट 1% से कम है। वहीं नेशनल डेथ रेट घटकर 1.51% हो गया है। अब तक1 लाख 15 हजार 939 लोगों की जान गई है।

रिकवरी के मामले में भारत दुनिया में सबसे आगे

रिकवरी के मामले में भारत पूरी दुनिया में सबसे आगे हैं। यहां सबसे ज्यादा 67 लाख 91 हजार 113 लोग ठीक हो चुके हैं। टेस्टिंग के मामले में भारत दूसरे नंबर पर है। यहां अब तक 9.60 करोड़ से ज्यादा लोगों की जांच हो चुकी है।

कोरोना अपडेट्स

  • महाराष्ट्र सरकार ने मास्क के लिए कीमत तय कर दी है। अब यहां डबल और ट्रिपल लेयर वाले मास्क 3 से 4 रु. में बेचे जाएंगे। वहीं, एन95 मास्क की कीमत 19 से 49 रु. के बीच होगी। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने इसका ऐलान किया।
  • तेलंगाना में बीते 24 घंटों में 1811 संक्रमित ठीक हुए हैं। अब राज्य में स्वस्थ हुए मरीजों की संख्या 2 लाख 4 हजार 388 हो गई है। राज्य में रिकवरी रेट 90.38 प्रतिशत हो गई है, जबकि राष्ट्रीय स्तर पर ये आंकड़ा 88.8 फीसदी है। बीते 24 घंटों में यहां 1579 नए मामले सामने आए। राज्य में अब तक 2 लाख 26 हजार 124 संक्रमित मिले हैं।

पांच राज्यों का हाल

1. मध्यप्रदेश

राज्य में बीते 24 घंटे में 975 नए केस मिले और 1439 लोग रिकवर हुए। 25 मरीजों की मौत हो गई। अब तक 1 लाख 62 हजार 178 लोग संक्रमित पाए जा चुके हैं। इनमें 12 हजार 507 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है, जबकि 1 लाख 46 हजार 860 लोग ठीक हो चुके हैं। संक्रमण के चलते अब तक 2811 लोगों की मौत हो चुकी है।

2. राजस्थान

राज्य में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 1 लाख 77 हजार 123 हो गया है। बीते 24 घंटे के अंदर 1897 नए संक्रमित मिले। अभी 20 हजार 254 मरीजों का इलाज चल रहा है, जबकि 1 लाख 55 हजार 95 लोग अब तक ठीक हो चुके हैं। संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या 1774 हो गई है।

3. बिहार

राज्य में संक्रमण के चलते जान गंवाने वालों का आंकड़ा 1 हजार के पार हो गया। अब तक 1011 लोग जान गंवा चुके हैं। पिछले 24 घंटे में 8 संक्रमितों की मौत हुई। 1837 नए मरीज मिले और 1100 लोग रिकवर हुए। अब तक 2 लाख 6 हजार 961 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 11 हजार 60 मरीजों का इलाज चल रहा है, जबकि 1 लाख 94 हजार 889 लोग ठीक हो चुके हैं।

4. महाराष्ट्र

24 घंटे में राज्य में 8151 लोग संक्रमित पाए गए। 7429 लोग ठीक हुए और 213 मरीजों की मौत हो गई। अब तक 16 लाख 9 हजार 516 लोग संक्रमित पाए जा चुके हैं। इनमें 1 लाख 74 हजार 268 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है, जबकि 13 लाख 92 हजार 308 लोग ठीक हो चुके हैं। संक्रमण के चलते अब तक 42 हजार 453 लोगों की मौत हो चुकी है।

5. उत्तरप्रदेश

प्रदेश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 4 लाख 59 हजार 154 हो गया है। पिछले 24 घंटे में 2289 नए मरीज मिले, 3339 लोग ठीक हुए और 29 मरीजों की मौत हो गई। अभी 30 हजार 426 मरीजों का इलाज चल रहा है, जबकि 4 लाख 22 हजार 24 लोग ठीक हो चुके हैं। संक्रमण के चलते अब तक 6714 मरीजों की मौत हो चुकी है।



Source link

भारत-चीन विवाद:सेना ने लद्दाख में पकड़े गए चीन के सैनिक को लौटाया, 2 दिन पहले गलती से भारतीय सीमा में घुस आया था


  • Hindi News
  • National
  • Indian Army Handed Over The Chinese Soldier Corporal Wang Ya Long To The Chinese Army At The Chushul Moldo Meeting Point

लद्दाख14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

लद्दाख में भारत और चीन के बीच करीब 5 महीने से विवाद जारी है। 15 जून को गलवान में हुई झड़प के बाद तनाव और ज्यादा बढ़ गया।- फाइल फोटो

भारतीय सेना ने 2 दिन पहले लद्दाख में जिस चीनी सैनिक को पकड़ा था, उसे मंगलवार रात चुशूल-मोल्डो मीटिंग पॉइंट पर लौटा दिया। ये सैनिक सोमवार को भटककर लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पारकर लद्दाख के चुमार-डेमचोक इलाके में आ गया था। सेना ने उसी दिन कहा था कि तय प्रॉसिजर पूरा करने के बाद प्रोटोकॉल के मुताबिक चीन के सैनिक को लौटा दिया जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चाइनीज सैनिक को लौटाने से पहले चीन के मामलों ने जुड़े एक्सपर्ट्स ने उससे पूछताछ की। वहीं आर्मी ने बताया था कि चीन के सैनिक को मेडिकल हेल्प, खाना और गरम कपड़े दिए गए, ताकि उसे कोई दिक्कत नहीं हो।

लद्दाख में भारतीय सेना की सर्दियों में भी डटे रहने की तैयारी
भारत-चीन के बीच लगातार तनाव के बीच सेना ने सर्दियों में लद्दाख के इलाकों में डटे रहने की तैयारियां कर ली हैं। भारत ने ऊंचाई वाले इलाकों लिए वॉरफेयर किट और विंटर क्लोथ अमेरिका से खरीदे हैं।

भारतीय सैनिकों का लद्दाख के पैंगॉन्ग लेक के दक्षिण में 13 अहम चोटियों पर कब्जा है, जहां वे माइनस 25 डिग्री सेल्सियस टेम्परेचर में पूरी मुस्तैदी के साथ डटे हुए हैं। सीमा विवाद हल करने के लिए चुशुल में 12 अक्टूबर को कोर कमांडर स्तर की मीटिंग करीब 11 घंटे चली, लेकिन पहले की बैठकों की तरह इसमें भी कोई पुख्ता रास्ता नहीं निकल पाया।



Source link

‘लक्ष्मी’ के भाई से रूठी लक्ष्मी:बेटी की शादी में 500 करोड़ खर्च करने वाले लक्ष्मी मित्तल के भाई प्रमोद पर 24 हजार कराेड़ का कर्ज


  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • Pramod Mittal, Who Once Spent 500 Crores In His Daughter’s Wedding, Now Owes 24 Thousand Crores Rupees

लंदन2 घंटे पहले

स्टील किंग लक्ष्मी मित्तल के छोटे भाई प्रमोद मित्तल का कहना है कि उन्होंने अपनी तमाम संपत्ति एक साैदे में गंवा दी।- फाइल फोटो

  • 64 साल के प्रमोद मित्तल कर्जों के गारंटर बने थे, दिवालिया होने की कगार पर
  • कहा- दिल्ली में कभी एक प्लाॅट खरीदा था, अब बस वही बचा

कभी बेटी की शादी में 500 करोड़ रुपए का खर्च कर सुर्खियों में रहने वाले स्टील किंग लक्ष्मी मित्तल के छोटे भाई प्रमोद मित्तल ब्रिटेन के सबसे बड़े बैंकरप्ट (दिवालिया) घोषित किए जा सकते हैं।

64 साल के प्रमाेद मित्तल का कहना है, “मुझ पर 23,750 कराेड़ रुपए का बकाया है। मैंने अपनी तमाम संपत्ति एक साैदे में गंवा दी। अब मेरे पास इनकम का भी काेई जरिया नहीं है, सिवाय दिल्ली के पास एक जमीन के। इसकी कीमत कभी 45 पौंड (4300 रुपए) थी। मेरे पास कुल जमा डेढ़ करोड़ रुपए रह गए हैं। मेरी अपनी कोई कमाई नहीं रह गई है। पत्नी भी मुझ पर निर्भर नहीं हैं। हकीकत यह है कि मेरे सामने अब जीने का संकट खड़ा हो गया है। मेरे महीने का खर्च करीब 2 लाख रुपए है।”

पिछले साल फ्रॉड के केस में गिरफ्तार किए गए थे
प्रमोद का विवाद 14 साल पुराना है। वे कई कर्जों के एवज में गारंटर थे, लेकिन, धोखाधड़ी के मामले में फंसने के बाद वे अपना कर्ज नहीं चुका पाए। तब बड़े भाई लक्ष्मी मित्तल ने दो बार जमानत की रकम भरकर उन्हें आपराधिक कार्रवाई से बचाया भी था। प्रमोद पर ब्रिटेन स्टेट ट्रेडिंग कॉरपोरेशन (STC) के 2,210 करोड़ रुपए का बकाया था। 2019 में उन्हें धोखाधड़ी के आरोप में बोस्निया में गिरफ्तार भी किया गया था। यह मामला कोयला प्लांट GIKIL से जुड़ी धोखाधड़ी का है।

प्रमोद एक हजार कर्मचारियों वाली इस फर्म को साल 2003 से चला रहे थे। वे GIKIL के सुपरवाइजरी बोर्ड के प्रमुख थे। प्रमोद को इस प्लांट के खाते से करीब 84 करोड़ रुपए के संदिग्ध ट्रांसफर के बारे में पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था। यह ट्रांसफर साल 2006 से 2015 के बीच किए गए थे। इस प्लांट में एक स्थानीय पब्लिक कंपनी (KHB) का भी शेयर है। पिछले साल प्रमोद को 92 करोड़ रुपए की जमानत दिए जाने के बाद रिहा किया गया था। तब मीडिया में यह खबर आने लगी थी कि दोनों भाइयों के बीच संपत्ति को लेकर विवाद हो गया है।

आर्सेलर के कारोबार में प्रमोद की 28,200 करोड़ रुपए की हिस्सेदारी
दुनिया की सबसे बड़ी स्टील निर्माता कंपनी आर्सेलर मित्तल का लक्जमबर्ग स्थित कारोबार 84,600 करोड़ रुपए का है। इसमें प्रमोद की हिस्सेदारी 28,200 करोड़ रुपए है। ब्रिटेन में हाल में जारी टाइम रिच लिस्ट के अनुसार क्वींस पार्क रेंजर्स फुटबॉल क्लब में उनकी 20 फीसदी की हिस्सेदारी है और उसकी लागत 50 हजार करोड़ रुपए है। बड़े भाई लक्ष्मी मित्तल ब्रिटेन के 19वें सबसे अमीर आदमी हैं। वे ब्रिटेन के पॉश इलाके मेफेयर में 2000 करोड़ रुपए की हवेली के मालिक हैं।



Source link

अयोध्या की रामलीला:बिना रीटेक लिए बॉलीवुड आर्टिस्ट प्रस्तुति दे रहे, रोज तीन घंटे रिहर्सल करते हैं; ढाई घंटे तैयार होने में लगते हैं


  • Hindi News
  • National
  • Bollywood Artists Perform Three Hours A Day Rehearsing Without Retech; It Takes Two And A Half Hours To Prepare

अयोध्या17 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मंगलवार को राम के वनवास का मंचन हुआ। चित्रकूट में भगवान राम को मनाने के लिए भरत पहुंचे। जब वे नहीं माने तो भरत राम की खड़ाऊं लेकर लौट आए। इसके बाद उन्होंने खड़ाऊं को राजगद्दी पर रखकर 14 साल राजपाठ किया।

  • दूरदर्शन, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अयोध्या की रामलीला 5 करोड़ से ज्यादा लोग लाइव देख रहे
  • दूरदर्शन की 55 सदस्यीय टीम जुटी, 9 अलग-अलग एंगल से शूट कर प्रसारण कर रही है

(विजय उपाध्याय) अयोध्या में आधुनिकता के नए प्रयोग के साथ सहिष्णुता का रंग पक्का हो रहा है। सरयू किनारे लक्ष्मण किले में भव्य सेट और लाइटिंग के बीच रामलीला का मंचन हो रहा है। इसके रोमांच को बॉलीवुड के कलाकारों ने और बढ़ा दिया है। दिल्ली और मुंबई सेे आया 120 लोगों का दल मंचन कर रहा है। इसमें 85 आर्टिस्ट अलग-अलग किरदार निभा रहे हैं।

इसे दूरदर्शन और सोशल मीडिया के जरिए हर रोज 5 करोड़ से ज्यादा लोग देख रहे हैं। रावण की भूमिका निभा रहे शहबाज खान भगवान शंकर के शिवतांडव स्तोत्र का गायन कर रहे हैं। शहबाज बताते हैं- ‘रामलीला, राम और रावण से जुड़ी घटनाओं का प्रवाह है।’ तैयारियों पर कहते हैं- ‘सबसे बड़ी चुनौती यह थी कि हमें तीन घंटे लाइव प्रस्तुति देनी है। वो भी एक भी रीटेक लिए बिना।

इसलिए अगस्त से ही तैयारी शुरू कर दी थी। अभी भी हर दिन दो से तीन घंटे संवादों को याद करते हैं। प्रस्तुति से ठीक पहले मंच पर रिहर्सल करते हैं। रामलीला में अंगद बने भाजपा सांसद रवि किशन बताते हैं- ‘अयोध्या की रामलीला में पूरा भारत समाया है। नारद बने असरानी सिंध से और हनुमान बने बिंदु दारा सिंह पंजाब से आते हैं।’

सीता का किरदार निभा रहीं टीवी कलाकार कविता जोशी बताती हैं- ‘सीता के अवतार में आने के लिए हर दिन दो से ढाई घंटे तक मेकअप में लगते हैं। हम दिन-रात संवादों को जीते हैं।’ कलाकारों के मेकअप के लिए 12 आर्टिस्ट काम कर रहे हैं।

दूरदर्शन के महानिदेशक मनोज अग्रवाल बताते हैं कि दूरदर्शन के सबसे बेहतर कैमरा क्रू और टेक्नीशियन अयोध्या भेजे गए हैं। 9 एचडी कैमरे अलग-अलग एंगल से मंच को कवर करते हैं और एचडी वैन में बने कंट्रोल रूम से लाइव प्रसारण हो रहा है।

अयोध्या के लोग रामलीला को टीवी पर देखकर खुश हैं। हनुमान मंदिर के पुजारी संतोष वैदिक कहते हैं- ‘यहां रामलीला सीमित हो गई थी। लेकिन, नई रामलीला से माहौल बदल रहा है।’ होटल व्यवसायी अनूप बताते हैं कि उनके पास इस रामलीला को सामने से देखने के लिए जमकर पूछताछ आ रही है। उम्मीद है अगले साल मंच के सामने बैठकर देखने का मौका मिलेगा।

रावण दहन के लिए पीएम मोदी को आने का निमंत्रण

पहली बार रामलीला का लाइव प्रसारण दूरदर्शन पर हो रहा है। रामलीला का समापन 25 अक्टूबर को रावण दहन से किया जाएगा। दहन के लिए लगभग 100 फुट ऊंचा रावण का इकोफ्रेंडली पुतला बनवाया जा रहा है। ताकि प्रदूषण कम से कम हो। यह 23 को अयोध्या पहुंचेगा।

शो के आयोजक बॉबी मलिक ने बताया कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर अयोध्या आकर रावण दहन करने का आग्रह किया है। इससे लोगों में उत्साह का संचार होगा। हालांकि, उन्हें प्रधानमंत्री ऑफिस की तरफ से कंफर्मेशन नहीं मिली है।



Source link

गर्भनाल तक नहीं पहुंचता कोरोना:आठ महीने में 43 हजार डिलीवरी, 1600 प्रसूताओं काे कोरोना था; केवल 54 नवजात ही संक्रमित


  • Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • In Eight Months, There Were 43 Thousand Deliveries, Corona Of 1600 Obstetricians; Only 54 Newborns Are Infected

सूरतएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

डॉक्टरों के अनुसार संक्रमित मां से जन्म लेने के बाद बच्चों को मां का दूध पिलाया गया। शोध में पता चला कि दूध से वे संक्रमित नहीं हुए। इससे बच्चों में वायरस से लड़ने की इम्युनिटी और बढ़ गई। – प्रतीकात्मक फोटो

  • सरकारी अस्पताल: 20 हजार डिलीवरी, 700 प्रसूताएं पॉजिटिव थीं
  • निजी अस्पताल: 23 हजार डिलीवरी, 700 प्रसूताओं को कोरोना था, 16 बच्चे संक्रमित

(समीर राजपूत/सूर्यकांत तिवारी) कोरोनाकाल के 8 महीने में गुजरात में 43 हजार प्रसव हुए, जिसमें 1600 प्रसूताएं डिलीवरी के दौरान कोरोना पॉजिटिव थीं। इसमें से केवल 54 नवजात संक्रमित थे। हालांकि, पॉजिटिव मिले शिशुओं के कोरोना के कोई लक्षण नहीं थे। सभी शिशु पांच से दस दिन में निगेटिव भी हो गए। कोरोना के कारण एक भी बच्चे को एनआईसीयू में नहीं रखा गया।

जब कोरोना तेजी से फैल रहा था और लोगों की जानें जा रही थी, तब संक्रमित माताओं के गर्भ में पल रहे इस वायरस से कैसे बच गए? जन्म के बाद मां का दूध पीने के बाद बच्चे कोरोना से कैसे सुरक्षित रहे? इन सवालों का जवाब संभवत: दुनिया में पहली बार अहमदाबाद में खोजने का प्रयास किया गया।

अहमदाबाद के सिविल अस्पताल के गायनेकोलॉजिस्ट और माइक्रोबायोलॉजिस्ट विभाग में 105 कोरोना-ग्रस्त मां और संक्रमित मां के 50 शिशुओं पर शोध किया गया। डॉक्टरों के अनुसार संक्रमित मां से जन्म लेने के बाद बच्चों को मां का दूध पिलाया गया।

शोध में पता चला कि दूध से वे संक्रमित नहीं हुए। इससे बच्चों में वायरस से लड़ने की इम्युनिटी और बढ़ गई। किसी भी संक्रमित मां को बच्चों को दूध पिलाने से नहीं रोका गया। हां, सतर्कता जरूर रखी गई। स्मीमेर अस्पताल के गायनिक विभाग के एचओडी डॉ. अश्विन वाछाणी ने बताया कि कोरोनाकाल में माता-पिता आशंकित रहते थे।

मां के 100 एमएल दूध में क्या होता है?

अमरेली, एक साथ तीन बच्चों का जन्म, तीनों कोरोना निगेटिव

अमरोली के जेसिंगपरा की एक 22 वर्षीय रेखाबेन कालूभाई गोहिल ने काेरोनाग्रस्त हालत में तीन बच्चों को जन्म दिया। बच्चों का भावनगर में इलाज चल रहा है। तीनों बच्चों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। मां के कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद तीनों बच्चों में वायरस के कोई लक्षण नहीं पाए गए। अमरेली के सिविल अस्पताल के फिजीशियन डॉ. विजय वाला ने बताया कि महिला की हालत स्थिर है। सामान्य तौर पर जन्म के बाद अधिक संपर्क में आने से नवजात के पॉजिटिव होने का खतरा है।



Source link

‘शक्ति’ की मिसाल:महिलाओं ने गांव के शीतला मंदिर तक जाने के लिए 9 महीने में पहाड़ी काटकर बनाई 300 मीटर सड़क


भिलाई9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

9 महीने में श्रमदान करके पहाड़ी को काटकर 300 मीटर लंबी सड़क बना दी है। इसमें अब मोटर साइकिल और कारें दौड़ने लगी हैं।

  • बालोद जिले में डौंडी लोहारा के हितापठार गांव में 159 परिवार की महिलाओं ने किया श्रमदान

संजय पाठक| जंगल से घिरी पहाड़ी के ऊपर मां शीतला का मंदिर। मुख्य मार्ग से मंदिर करीब 3 किलोमीटर दूर। उबड़-खाबड़, पथरीली और पहाड़ी के बीच रास्ता, वह भी झाड़ियों से घिरी। मंदिर जाने के लिए करीब 45 मिनट से 1 घंटे लग जाते हैं, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। बालोद जिला के डौंडी लोहारा ब्लाॅक के हितापठार गांव की 159 परिवार की महिलाओं ने अपनी श्रम शक्ति से इसकी सूरत बदल दी है।

9 महीने में श्रमदान करके पहाड़ी को काटकर 300 मीटर लंबी सड़क बना दी है। इसमें अब मोटर साइकिल और कारें दौड़ने लगी हैं। नवरात्रि के अलावा सामान्य दिनों में भी ग्रामीणों को मंदिर जाना होता था। मंदिर जाते समय कई बार लोग दुर्घटना के भी शिकार हो चुके थे। इसे देखते हुए 11 फरवरी 2020 में महिलाओं ने श्रमदान कर सड़क बनाने की ठानी थी।

इसमें गांव के पुरुषों का भी सहयोग रहा। इस मार्ग को पिछले हफ्ते पूरा किया गया। इसके बाद मंदिर में आने-जाने का मार्ग सरल हो गया।

हर हफ्ते में 4 दिन गांव के हर परिवार ने किया श्रमदान
मार्ग बनाने के पहले गांव की महिलाओं ने समिति तैयार की। उन्होंने बताया कि इतनी लंबी राह बनाना आसान नहीं था। कोई एक व्यक्ति इसे बना नहीं सकता था। गांव में सभी के अपने- अपने घरों के भी काम होते हैं। ऐसे में एक युक्ति बनाई गई, ताकि घरों के भी काम प्रभावित न हो और आसानी से मार्ग भी बन जाए। इसके लिए प्रत्येक परिवार के सदस्यों से सिर्फ 4 दिन श्रमदान करने की बात कही गई। इसके लिए भी राजी हो गई।

खेती के लिए रोकेंगे अब बारिश का पानी
संस्था की धर्मा बाई ने बताया कि हितापठार गांव पहाड़ी से घिरा है। ढालू होने की वजह से बारिश का पानी बह जाता है। ग्राउंड वाटर लेबल भी 300 फीट से नीचे है। पथरीली जमीन के कारण सिर्फ धान का ही फसल ले पाते हैं। एक एकड़ में 8 से 10 क्विंटल धान ही मिलता है। इसे देखते हुए अब बारिश का पानी रोकने के लिए चेक डेम और बोल्डर स्ट्रक्चर बनाया जाएगा। मेड़ भी बनाई जाएगी, ताकि पानी रोक सकें।



Source link

सरायकेला में परंपरा टूटी:130 साल से दुर्गा पूजा में मां की वीरगाथा सुना रही छऊ टीम की एक भी बुकिंग नहीं, मां का रोल करने वाला बना रहा पंक्चर


  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • Chhau, Who Has Been Narrating The Heroic Story Of Mother In Durga Puja For 130 Years, Has No Bookings, Puncher, Who Is Playing Mother’s Role, Mahishasura Selling Potatoes

रांची5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

मां दुर्गा बने सतीश, महिषासुर बने संजय व टीम। (फाइल फोटो)

सरायकेला के गैरेज चौक के पास 45 वर्षीय सतीश सिंह मोदक कांपती हाथों से बाइक का पंक्चर बना रहे हैं। थोड़ी ही दूर पर पारिजात के पेड़ से गिरते फूल और सामने खेत में उगे कास के फूल उन्हें नवरात्र आने का संकेत दे रहे हैं। पिछले साल की ही बात है, कैसे गर्व से देवी दुर्गा के रूप में वे छऊ नृत्य कर रहे थे, तो तालियों से लोग उनका स्वागत कर रहे थे।

कोरोना काल में तीन दशक से सीखी उनकी कला बाइक की स्टेपनी पर रबर चिपकाते मरी जा रही है। वहीं गुदली के पास संजय कर्मकार आलू बेच रहे हैं, जो कभी महिषासुर की भूमिका में उछलते-कूदते नहीं थकते थे।सतीश और संजय जैसा हाल रंजीत आचार्य का भी है, जिनकी छह पीढ़ियों ने छऊ की ट्रेनिंग दी है। आज वे डेयरी में दूध बेच रहे हैं।

इस बार एक भी बुकिंग नहीं हुई, न तो झारखंड में और न ही देश-दुनिया से

सरायकेला में ही 15वीं शताब्दी में छऊ नृत्य कला की शुरुआत हुई थी। 19वीं शताब्दी के अंत (1890) से इसकी लोकप्रियता इतनी बढ़ी कि दुर्गा पूजा में इनकी प्रस्तुति परंपरा बन गई। दुर्गोत्सव में देश-दुनिया से इन्हें प्रदर्शन के लिए आमंत्रण मिलते हैं। लेकिन, इस बार एक भी बुकिंग नहीं हुई है। न तो झारखंड में और न ही देश-दुनिया से।

गुरु पद्मश्री शशधर आचार्य

गुरु पद्मश्री शशधर आचार्य

पिछले साल फुरसत नहीं थी, इस बार काम नहीं

छऊ के गुरु पद्मश्री शशधर आचार्य ने बताया कि पहले दुर्गा पूजा के समय छऊ कलाकारों को फुरसत नहीं मिलती थी। देश भर से इनकी डिमांड आती थी। इस बार ऐसा कुछ नहीं हो रहा। कलाकार व कला खुद को बचाने के लिए आज संघर्षरत हैं।



Source link